यदि आप अपना आध्यात्मिक स्वभाव नहीं जान पाते तो आपका सुखी रह पाना असंभव है ।

Donate for Gitalaya