ईच्छा रहित होने की ईच्छा करना स्वयं अपने आप में एक ईच्छा है , अतः कोई भी पूर्णतः ईच्छा रहित हो ही नहीं सकता।

Donate for Gitalaya